अब इस जुगाड़ से नहीं रहेगी पशुओं को बार- बार पानी पिलाने की जरूरत

इस नए जुगाड़ की मदद से पशुओं को बार बार पानी पिलाने के झंझट से छुटकारा मिलेगा। दरअसल ज्यादातर किसान पशुओं को दिन में 2 से 3 बार पानी पानी पिलाते हैं लेकिन एक ही बार में पशु ज्यादा पानी नहीं पी सकता इसलिए एक दो बार ज्यादा पानी पिलाने से अच्छा है कि पशु अपनी जरूरत के हिसाब से पानी पी ले।

पशुओं को एक लीटर दूध पैदा करने के लिए तीन लीटर पानी की ही जरूरत पड़ती है। अब सवाल ये उठता है कि पशु को बार-बार पानी कौन पिलाएगा। तो इसका उत्तर है कि पशु खुद पानी पीएगा। जी हाँ, अब एक ऐसा जुगाड़ आ गया है जिससे पशु की खुरली में ही फ्लश टंकी की तरह पानी की टंकी लग जाएगी और पशु खुद वहां से जब चाहे पानी पी सकता है।

Advertisement

पशु के पानी पीने से यह जितनी खाली होगी दोबारा फिर उतनी ही भर जाएगी। इसका एक फायदा यह भी है कि अगर आपको कहीं बाहर भी जाना है तो आप आराम से आ-जा सकते हैं क्योकि इससे पशुओं को पानी पिलाने की चिंता नहीं रहती। इनको अपने आप ही पानी मिलता रहता है।

इस पानी वाली छोटी टंकी को स्टील से बनाया जाता है। इसमें एक नल से पानी डाला जाता है। इसमें वही सिस्टम लगा होता है जो हमारे हमारे टॉयलट वाले फ्लश टैंक में होता है। जैसे ही पानी कम होता है ये सिस्टम नल को खोल देता है जिस से पानी अपने आप आने लगता है। इस सिस्टम को कोई भी बना सकता है। यह कोई ज्यादा महंगा जुगाड़ नहीं है। इसे घर पर तैयार करा सकते हैं।