सांप के काटने पर सिर्फ 10 रूपये में घर पे ही करें ये इलाज, बच जाएगी जान

दोस्तों आज हम आपको सांप के डसने का इलाज बताने जा रहे हैं। दोस्तों सबसे पहले तो आप ये जान लो कि भारत मे जैसे cobra,viper और karit है, ऐसी 550 किस्म की साँपो की जातियाँ हैं। इनमे से करीब 10 साँप है जो जहरीले होते हैं। बाकी सब non poisonous है। लेकिन साँप के काटने के डर के कारण कई बार आदमी heart attack से मर जाता है।

लेकिन कुछ जहरीले साँप ऐसे हैं जिनके काटने के बाद मौत निश्चित होती है, जैसे कि russell viper । उसके बाद है karit , viper और cobra, king cobra जिसको काला नाग भी कहा जाता है। ये 4 तो बहुत ही खतरनाक और जहरीले है इनमे से किसी ने काट लिया तो 99% मौत होगी। लेकिन आप थोड़ी होशियारी दिखा के रोगी को बचा सकते हैं।

Advertisement

आपको बता दें कि साँप जब भी काटता है तो खून मे वो अपना जहर छोड़ देता है। फिर ये जहर ऊपर की तरफ जाता है। मान लीजिये हाथ पर साँप ने काट लिया तो फिर जहर दिल की तरफ जाएगा उसके बाद पूरे शरीर मे पहुंचेगा।कहीं भी काटेगा तो दिल तक जाएगा। और पूरे मे खून मे पूरे शरीर मे उसे पहुँचने मे 3 घंटे लगेंगे ।

मतलब ये है कि रोगी 3 घंटे तक नहीं मरेगा । जब पूरे दिमाग के एक एक हिस्से मे बाकी सब जगह पर जहर पहुँच जाएगा तभी उसकी मौत होगी नहीं तो नहीं होगी। हम आपको एक दवा के बारे में बता रहे हैं जिसे आप हमेशा अपने घर मे रख सकते हैं। ये बहुत सस्ती है और homeopathy मे आती है । उसका नाम है NAJA (N A J A ) । ये आपको किसी भी homeopathy shop मे मिल जाएगी। आपको दुकान पर जाकर कहना है NAJA 200 देदो।

इस दवा के सिर्फ 5 मिलीलीटर से 100 लोगो की जान बच सकती है। और इसकी कीमत सिर्फ 50 रुपए है। तो आइये अब जानते हैं कि ये NAJA 200 रोगी को देनी कैसे है…

सबसे पहले 1 बूंद उसकी जीभ पर रखें और 10 मिनट बाद फिर 1 बूंद रखे और फिर 10 मिनट बाद 1 बूंद रखे । ऐसा 3 बार करें और छोड़ दीजिये । बस इतना काफी है। धीरे धीरे ये दवा असर दिखाएगी और रोगी को बचा लेगी । इसी तरह सिर्फ 10 रुपए की medicine से आप उसकी जान बचा सकते हैं।