सेविंग अकाउंट से डबल फ़ायदा और सरकारी गारंटी के लिए पोस्ट ऑफिस की इस स्कीम में करें इन्वेस्ट

जैसे कि आप जानते होंगे दिवाली धन की देवी लक्ष्मी का त्योहार है, और धन किसी के हाथ में टिकता नहीं है। माहिरों का कहना है कि सिर्फ जरूरत का पैसा अपने हाथ में रखें और बाकी सारा निवेश कर दें। आपने अगर आजतक कहीं पे भी पैसा निवेश नहीं किया है, तो आप पोस्ट ऑफिस स्कीम से शुरुआत कर सकते हैं।

पोस्ट ऑफिस में की टैक्स सेविंग स्कीम में पैसा लगाकर आप इनकम टैक्स बचा सकते हैं और साथ ही इस निवेश पर सरकारी गारंटी भी मिलती है। पुरे देश में भारत सरकार द्वारा आपको सिर्फ पोस्ट ऑफिस में ही आपके निवेश किये गए पैसे की की सुरक्षा की गारंटी दी जाती है।

Advertisement

आपको पोस्ट ऑफिस में निवेश के करने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह देश के हर कोने में मौजूद हैं। और साथ ही पोस्ट ऑफिस एजेंट का नेटवर्क भी काफी बड़ा है, जिससे घर बैठे निवेश की सुविधा मिल जाती है। आज के समय में पोस्ट ऑफिस भी ऑनलाइन हो गए हैं, जिसके चलते आप एक जगह पर किया गया निवेश किसी दूसरी जगह से निकाल भी सकते हैं। पोस्ट ऑफिस का एक फायदा ये नहीं है कि लोग इसमें अपनी जरूरत के हिसाब से निवेश कर सकते हैं।

पीपीएफ

PPF यानि पब्लिक प्रॉविडेंड फंड अकाउंट में 2 खूबियां हैं जो इसे सबसे अलग बनाती है। पहली तो ये कि जब यह अकांउट पूरा होता है तो मिलने वाला पूरा पैसा टैक्स फ्री होता है। दूसरी खूबी ये है कि इस अकाउंट का पैसा किसी भी देश में जब्त नहीं किया जा सकता है। इस समय PPF में 7.9 फीसदी ब्याज दिया जा रहा है।

आप ये अकाउंट कम से कम 500 रुपये में खुलवा सकते हैं। और आप एक साल में ज्यादा से ज्यादा 1.5 लाख रुपए का निवेश कर सकते हैं। PPF अकाउंट पोस्ट ऑफिस के अलावा कई बैंकों में भी खोला जा सकता है। इसके अलावा बाद में पब्लिक प्रॉविडेंड फंड अकाउंट को पोस्ट ऑफिस से बैंक और बैंक से पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर भी कराया जा सकता है।

नेशनल सेविंग सार्टिफिकेट

पोस्ट ऑफिस में नेशनल सेविंग सार्टिफिकेट में इस वक्त 7.9 फीसदी का ब्याज मिल रहा है। ये भी टैक्स सेविंग का एक अच्छा तरीका है। इसका सबसे बड़ा फायदा ये है कि आप इसमें 100 रुपए का भी निवेश कर सकते हैं। नेशनल सेविंग सार्टिफिकेट, सार्टिफिकेट के रूप में मिलता है, इस सर्टिफिकेट से हर निवेश अलग अलग हो जाता है।

इसका एक और फायदा ये भी है कि जब भी पैसा हो इसे खरीदा जा सकता है। और जब आपको पैसे की जरूरत पड़े तो आप उसकी मैच्योरिटी के हिसाब से उसे कैश करा सकते हैं। नेशनल सेविंग सार्टिफिकेट में जमा किया पैसा आप 5 साल बाद निकलवा सकते है। नेशनल सेविंग सार्टिफिकेट में 1.5 लाख रुपए तक निवेश कर अधिकतम टैक्स की छूट पाई जा सकती है, लेकिन यहां पर निवेश की कोई सीमा नहीं है, लोग जितना चाहें उतना निवेश कर सकते हैं।