एक जगह ऐसी भी जहां 2500 रुपए क्विंटल बिकता है धान

जैसे कि आप जानते होंगे कि लगभग पुरे देश के किसानों की हालत कुछ ठीक नहीं है, किसानों को हर बार किसी न किसी कारण से कम दाम पर फसलें बेचने पे मज़बूर होना पड़ता है, लेकिन हमारे देश में एक जगह ऐसी भी है जहां किसानों का धान 2500 रुपए प्रति क्विंटल बिकता है|

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने वर्ष 2019 – 20 के लिए धान का समर्थन मूल्य 1815 रूपये प्रति क्विंटल तय किया है, और a-1 ग्रेड धान का 1935 रूपये प्रति क्विंटल तय किया गया था | पुरे देश में यह मूल्य एक सामान है, इसका मतलब कि इसी मूल्य पर किसानों से धान खरीदा जाएगा| लेकिन इसके बाबजूद छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा पिछले वर्ष किसानों से धान 2500 रूपए प्रति क्विंटल पर खरीदा गया था,

Advertisement

इस साल भी छत्तीसगढ़ सरकार ने किसानों से वायदा किया है कि उनका धान 2500 रुपये प्रति क्विंटल के भाव से ही खरीदा जाएगा| लेकिन इस बार अभी तक केंद्र सरकार द्वारा उन्हें मंजूरी नहीं दी गई है | हलाकि किसानों से धान की सरकारी खरीदी के लिए पंजीयन पूरा हो चूका है | किसानों को अब सिर्फ धान खरीदी का इन्तजार है| छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा एक सम्मेलन में अपना यह वायदा फिर दोहराया था कि किसानों का धान हर हाल में 2500 रूपए प्रति क्विंटल खरीदा जायेगा।

फिर चाहे इसके लिए उन्हें कोई सहयोग दे या ना, लेकिन हम किसानों से किया हुआ वायदा जरूर निभायेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि केन्द्रीय पुल के लिए केन्द्रीय सरकार हर साल चावल लेती थी, लेकिन इस साल अभी तक सरकार द्वारा कोई बात नहीं की गयी है। उन्होंने बताया की पिछले साल हमने किसानों से 2500 रूपए में धान खरीदा और उन्हें इसका भुगतान किया। साथ ही किसानों का क़र्ज़ भी माफ़ किया गया।

इस सब का बाजार और व्यापारियों को भी भरपूर फायदा मिला है। क्योंकि किसान कभी भी पैसा मिलने पर इसे घर में जमा करके नहीं रखता, बल्कि दिल खोलकर खर्च करता है। सोना-चांदी, गाड़ी-घोड़ा, सहित जरूरत की चीज तत्काल खरीद कर अपना सपना पूरा करता है। इसी कारण से देशव्यापी मंदी का असर छत्तीसगढ़ पर नहीं पड़ा है।