Budget 2020: जानें बजट के बाद क्या होगा सस्ता और किन चीज़ों की बढ़ सकती हैं कीमतें

दोस्तों जैसे कि आप जानते हैं कि हर साल फरवरी के महीने में वित्त मंत्री द्वारा आम बजट पेश किया जाता है। इस बार भी आज यानि एक फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा देश का आम बजट 2020-21 पेश कर दिया गया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा आम बजट में कई ऐसे कई ऐलान किये गए हैं, जिनके बाद आम लोगों से जुड़ी बहुत सी चीजें सस्ती और मंहगी हो जाएंगी। साथ ही बजट में कुछ ऐसे ऐलान भी हुए हैं जिसके बाद आम लोगों को राहत मिलेगी। आइए जानते हैं कि इस बार बजट के बाद क्‍या महंगा हो सकता है और क्या सस्ता हो सकता है।

ये सब होगा सस्‍ता

Advertisement

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के बजट के एलान के बाद इलेक्ट्रिक वाहन सस्ते हो सकते हैं। सबसे बड़ी बात ये है कि आम आदमी के लिए होम लोन लेना भी सस्‍ता हो सकता है। इसके साथ ही साबुन, शैंपू, बालों का तेल, टूथपेस्‍ट, डेटरजेंट, बिजली का घरेलू सामान जैसे पंखे, लैम्‍प, सेनिटरी वेयर, ब्रीफ केस, यात्री बैग, बोतल, कंटेनर, रसोई में प्रयुक्‍त सामान जैसे बर्तन, चश्‍मों के फ्रेम, गद्दा, बिस्‍तर, बांस का फर्नीचर, सूखा नारियल, धूपबत्‍ती, नमकीन, पास्‍ता, मयोनेज, सैनिटरी नैपकिन भी सस्ता हो सकता है।

इस सबके साथ सस्ते होने वाली चीज़ों में ऊन और ऊनी धागे, खाद्य वस्‍तुएं जैसे चॉकलेट, वैफर्स, कस्‍टर्ड पाउडर, संगीत के उपकरण, लाइटर, ग्‍लासवेयर, पॉट, कुकर, चूल्‍हा, गर्म रोल्‍ड कॉयल, प्रिंटर, मैग्‍नीशियम ऑक्‍साइट की परत वालं ठंडा रोल्‍ड इस्‍पात की कॉयल, ठंडा रोल्‍ड फूल हार्ड, कोबाल्‍ट धातु और कोबाल्‍ट धातु के अन्‍य मध्‍यवर्ती उत्‍पाद, ऊनी वस्‍त्र आदि भी शामिल हैं।

ये सब होगा महंगा

आम बजट 2020-21 के एलान के बाद पेट्रोल-डीजल से लेकर सोना, काजू, ऑटो पार्ट्स, सिंथेटिक रबर, पीवीसी और टाइल्‍स ये सब महंगा हो जाएगा। साथ ही तंबाकू उत्‍पाद भी महंगे हो सकते हैं। इसी के साथ चांदी और चांदी के आभूषण के भी महंगे होने की संभावना है। बजट के अनुसार ऑप्टिकल फाइबर, स्‍टेनलेस उत्‍पाद, एसी, लाउडस्‍पीकर, वीडियो रिकॉर्डर, सीसीटीवी कैमरा, वाहन के हॉर्न, सिगरेट आदि भी महंगे होने वाले हैं। ऑटोमोबाइल के लैम्‍प और बीम लाइट, घर्षण सामग्री, मोटर वाहनों में इस्‍तेमाल किए जाने वाले ताले महंगे हो सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *