आने वाले दिनों में उत्तर भारत के इन इलाकों में भरी बारिश के साथ होगी ओलावृष्टि

उत्तर भारत में इस बार फरवरी के महीने में लगातार मौसम साफ़ रहा है और करीब 15-20 दिनों से लगातार शुष्क मौसम बना हुआ है। जिस कारण इस बार फरवरी में ही ठंड का समापन हो रहा है और तापमान बढ़ने लगा है। लेकिन अब मौसम विभाग के अनुसार आने वाले दिनों में एक पश्चिमी विक्षोभ आता दिख रहा है।

मौसम विभाग का कहना है कि एक ताजा मध्यम सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ अफगानिस्तान और उससे सटे हुए पाकिस्तान पर वर्तमान में मौजूद है, ये विक्षोभ पूर्व की ओर बढ़ने पर 20 फरवरी की सुबह तक पहाड़ी राज्यों को प्रभावित करना शुरू कर देगा । उसके बाद 20 फरवरी की शाम तक इसके एक चक्रवाती संचलन पश्चिमी राजस्थान पर प्रभावी हो जाएगा। इसके प्रभाव से 20 फरवरी की शाम तक पंजाब के उत्तर पश्चिमी इलाकों में तेज़ हवाओं के साथ बारिश और ओलावृष्टि शुरू हो सकती है।

Advertisement

अगले दिन यानि 21 फरवरी की सुबह तक पंजाब, उत्तरी और मध्य हरियाणा, उत्तरी दिल्ली और पश्चिमी उत्तरप्रदेश में बारिश होगी। ये प्रणाली 21 फरवरी को अपनी चरम तीव्रता पर होगी और 22 फरवरी की सुबह तक यह उत्तर भारत की पहाड़ियों और मैदानों दोनों से साफ़ होने लगेगा।

मौसम विभाग के अनुसार इस अवधि के दौरान जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड की ऊपरी पहाड़ियों पर हल्की से मध्यम बर्फबारी की उम्मीद है। साथ ही निचले इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ ओलावृष्टि भी हो सकती है। पश्चिमी उत्तरप्रदेश के साथ साथ दिल्ली एनसीआर में हल्की से मध्यम बारिश और ओलावृष्टि होने के आसार हैं।

मौसम विभाग ने संभावना जताई है कि 20-21 फरवरी के दौरान जम्मू कश्मीर के जम्मू, कटरा, उधमपुर, पटनीटॉप, रामबन, बनिहाल, रामनगर, रामगढ़, बटोटे, कुलगाम और हल्की से मध्यम बारिश और कई जगहों पर बर्फबारी के आसार भी हैं।

इसी तरह हिमाचल प्रदेश राज्य के कांगड़ा, धर्मशाला, चम्बा, हमीरपुर, ऊना, मंडी, नाहन, सोलन, बिलासपुर और सुंदरनगर में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। और कई जगहों पर बिजली की गड़गड़ाहट के साथ-साथ ओलावृष्टि भी देखने को मिल सकती है।

हरियाणा और दिल्ली NCR के चंडीगढ़, पंचकुला, यमुनानगर, अंबाला, कुरुक्षेत्र, करनाल, कैथल, जींद, पानीपत, रोहतक, हिसार, सोनीपत, झज्जर, फरीदाबाद और गुड़गांव और राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में तेज हवाओं के साथ ज्यादातर बादल छाए रहने का अनुमान है और कई जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है।

पंजाब के ज्यादातर इलाकों में इस अवधि के दौरान बादल छाए रहेंगे और अमृतसर, पठानकोट, गुरदासपुर, होसियारपुर, बालाचूर, नवांशहर, जालंधर, मोगा, मनसा, बठिंडा, संगरूर, नाभा, लुधियाना, कपूरथला और रूपनगर इलाकों में तेज हवाओं के साथ हल्की से मध्यम बारिश और फतेहगढ़ साहिब, पटियाला, मोहाली और चंडीगढ़ में तेज़ बारिश के साथ ओलावृष्टि भी हो सकती है।

वहीं अगर उत्तरप्रदेश की बात की जाए तो यहां के सहारनपुर, मुज़फ़्फ़रनगर, बिजनौर, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, बुलंदशहर, मेरठ, बागपत, अलीगढ़, गाज़ियाबाद और गौतम बुद्ध नगर (नोएडा), पीलीभीत में तेज हवाओं के साथ-साथ ज्यादातर बादल छाए रहेंगे और कुछ एक इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश भी दर्ज की जा सकती है। इन गतिविधियों के बाद 20-21 फरवरी को दिन के तापमान में भारी गिरावट सम्भव है। जिससे कुछ दिनों के लिए एक बार फिर से ठंड बढ़ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *