गेहूं की ये नई किस्म देती है 80 क्विंटल तक पैदावार

किसान हमेशा गेहूं की नई किस्मों की तलाश में रहते हैं जिनसे उन्हें ज्यादा पैदावार मिल सके। आज हम आपको ऐसी ही एक नई किस्म के बारे में जानकारी देंगे। आपको बता दें कि आईसीएआर के करनाल स्थित गेहूं एवं जौ अनुसंधान संस्थान केन्द्र ने हाल ही में गेहूं की एक नई किस्म ‘करन वन्दना’ पेश की है। केंद्र के वैज्ञानिकों का कहना है कि यह किस्म बहुत कम बीमीएइयों के साथ ज्यादा पैदावार देती है।

वैज्ञानिकों के अनुसार गेहूं की यह नई किस्म पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, असम और पश्चिम बंगाल के उत्तर पूर्वी मैदानी क्षेत्रों के लिए सबसे बढ़िया है। आपको बता दें कि किसानों को गेहूं की बाकि किस्मों से औसत उत्पादन 55 क्विंटल प्रति हेक्टेयर तक प्राप्त होता है। लेकिन ‘करन वन्दना’ से किसान 64.70 क्विंटल प्रति हेक्टेयर से भी ज्यादा पैदावार ले सकते हैं। खबरों के अनुसार ”करन वन्दना’-डीबीडब्ल्यू 187 में गेहूं की बाकि किस्मों के मुकाबले ज्यादा प्रोटीन के अलावा जैविक रूप से जिंक, आयरन और कई अन्य महत्वपूर्ण खनिज तत्व मौजूद हैं।

Advertisement

वैज्ञानिकों के अनुसार इस नई किस्म की बुवाई के बाद फसल की बालियां 77 दिनों में निकल आती हैं और ये करीब 120 दिनों में पूरी तरह से तैयार हो जाती है। आपको जानकर हैरानी होगी कि एक महिला किसान (श्रीमती कोल्ला देवी, पत्नी- अर्जुन) ने गेहूं की इस किमम से लगभग 80 क्विंटल प्रति हेक्टेयर का उत्पादन लिया है। ये महिला किसान उन 100 किसानों में शामिल थीं जिन्हे करण वंदना के 2.5 किलोग्राम बीज की मिनी किट दी गयी थी।

इस किसान का कहना है कि उन्होने नवंबर, 2018 के तीसरे सप्ताह में गेहूँ इस किस्म की बुआई की थी। इसमें कोइला देवी ने खेत में उर्वरकों की अनुशंसित खुराक (150: 60: 40 किलोग्राम एनपीके/हेक्टेयर) डाली और दो बार सिंचाई की। फसल के सीजन के दौरान उन्होंने दो बार हाथ से इसकी निराई की। और इसके बाद 10 अप्रैल, 2019 को उन्होंने करीब 82.52 क्विंटल/हेक्टेयर पैदावार लेकर सबको हैरान कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *