आधी रात को सोनीपत में किसानों को भगाने के लिए पुलिस ने किया ये घिनौना काम

खेती कानूनों को लेकर पंजाब और हरियाणा के किसानों द्वारा लगातार संघर्ष किया जा रहा है और अब किसान दिल्ली की ओर बढ़ रहे हैं। लेकिन हरियाणा सरकार ने दो दिन के लिए अपने सारे बॉर्डर सील कर दिए हैं और किसानों के साथ काफी दुर्व्यवहार किया जा रहा है। अब पुलिस किसानों को भगाने के लिए कई घिनौने काम कर रही है।

आपको बता दें कि शीत लहर के बीच हरियाणा के सोनीपत में रात 11 बजे पुलिस ने पंजाब के किसानों को भगाने के लिए पानी की बौछार शुरू कर दी। जानकारी के अनुसार करीब 200 लोग शाम से सड़क के बीचों बीच नारे लगा रहे थे। पुलिस की टीम बैरिकेड्स के पीछे वाटर कैनन लिए तैयार थी। किसानों ने ये स्पष्ट कर दिया था कि वो पीछे हटने वाले नहीं हैं।

Advertisement

लेकिन किसानों के लिए दिल्ली तक पहुंचना आसान नहीं है। यहाँ तक कि पुलिस ने सड़क को खोदकर मिट्टी का ऊंचा ढेर कर लगा दिया था जिससे दूसरी तरफ से बैरिकेड तक पहुंचना बहुत मुश्किल था। आपको बता दें कि हरियाणा सरकार ने सुबह से ही अपनी सीमाओं को सील कर दिया था लेकिन पंजाब से आए किसान पुलिस के सख्त प्रतिरोध के बाद भी सीमा तोड़कर राज्य में घुसने में कामयाब रहे।

किसानों की मांग है कि सरकार तीनों कृषि कानूनों को निरस्त करे। क्योकि ये कानून किसानों की आजीविका के लिए खतरा हैं।बता दें कि पंजाब और हरियाणा में किसान करीब तीन महीने से कानूनों का विरोध कर रहे हैं। लेकिन सरकार अपने फैसले पर डटी हुई है और किसानों की एक नहीं सुन रही। अब देखना ये है कि किसान आगे क्या फैसला लेते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *