डीजल की बढ़ रही कीमतों से मिला छुटकारा, सरकार सिर्फ किसानो के लिए ये नई स्कीम

जैसे के हम जानते है के डीजल का दाम लगातार बढ़ रहा है. पिछले एक साल में इसके रेट में लगभग 19 रुपये का इजाफा हो चुका है. डीजल की बढ़ रही कीमतों की वजह से खेती की लागत और भी बढ़ चुकी है.क्योंकि किसानो को ट्रेक्टर और पानी का पंप चलने के लिए डीजल की जरूरत पड़ती है .

लेकिन सरकार ऐसी स्कीम लेकर आयी है जिस से किसानो का डीजल का खर्च पहले के मुकाबले काफी ज्यादा कम हो जायेगा .क्योंकि केंद्र सरकार PM-KUSUM-Pradhan Mantri Kisan योजना की शुरआत कर दी है. KUSUM योजना का मकसद किसानों को कृषि सेक्टर को डीजल मुक्त करना व उनकी आय बढ़ाना है. सरकार का दावा है कि किसान अगर इसके लिए लोन लेता है तो डीजल पर होने वाले खर्च की बचत से 5-6 वर्षों में भुगतान हो जाएगा.

Advertisement

क्या है योजना ?

वर्ष 2022 तक 20 लाख सौर पंपों की स्थापना होगी. इसी तरह 15 लाख मौजूदा ग्रिड-संबद्ध कृषि पंपों के सौरीकरण का प्रावधान है. सोलर पंपों की स्थापना करने तथा 7.5 एचपी तक की क्षमता के मौजूदा कृषि पंपों के सौरीकरण के लिए लागत की 30 प्रतिशत केन्द्रीय वित्तीय सहायता (CFA)दी जाती है. राज्य सरकार कम से कम 30 प्रतिशत सब्सिडी देती है. बाकि बची हुई 40 प्रतिशत राशि किसानों द्वारा दी जाती है.

ऐसा करने से डीजल की खपत कम होगी और कच्चे तेल के आयात पर रोक लगने के साथ किसानों का खर्च बहुत कम होगा.सबसे बड़ी बात कि बाकि बची रकम केंद्र सरकार द्वारा किसानों के बैंक खातों में सब्सिडी के तौर पर दी जाएगी, साथ ही किसानों को इस योजना के तहत बैंक से लोन के रूप में 30% रकम मिलेगी और सरकार किसानों को सोलर पंप की कुल लागत का 60% सब्सिडी के रूप में देगी।

कुसुम योजना के पहले चरण में केंद्र सरकार पुरे देश में 27.5 लाख सोलर पंप सेट बिलकुल मुफ्त दे रही है. इस योजना की पूरी जानकारी के लिए आप https://mnre.gov.in/# पर जा सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *