किसानों की आमदनी बढ़ा रहें है ये 3 Mobile App ,ऐसे करें इस्‍तेमाल

किसानों को जितना नुकसान मौसम और सूखे से नहीं होता, उतना सही समय पर सही सूचना न मिलने से होता है। लेकिन अब बाजार में कई ऐसे ऐप आ गए हैं जिससे किसान खेती से जुड़ी हर जानकारी हो लेकर अपडेट रह सकते हैं। इसमें मौसम से लेकर मंडी तक का अपडेट रहता है। अगर किसान इन ऐप का इस्‍तेमाल करें तो न सिर्फ उनका नुकसान कम होगा बल्कि उनकी आमदनी भी बढ़ सकती है।

अच्‍छी फसल का फायदा भी नहीं ले पाते किसान

कई बार बाढ़ से तो कई बार सूखे से किसानों की फसल चौपट हो जाती है। लेकिन जब अच्‍छी फसल होती है, तो उस वर्ष फसल के दाम गिर जाते हैं। ऐसेे में भी कई बार किसान अच्‍छा फायदा नहीं ले पाते हैं। हालांकि किसान अगर इन ऐप का इस्‍तेमाल करें तो अपनी फसल की अच्‍छी कीमत घर बैठे पा सकता है।

मोबाइल ऐप दे रहे जानकारी

कई कंपनियों और स्‍टार्टअप ने मोबाइल ऐप तैयार किए हैं। यह किसानों से जुड़ी पूरी जानकारी दे रहे हैं। इसमें फसल का रेट कहां क्‍या है, यह जानकारी सबसे महत्‍वपूर्ण है। इससे किसान घर बैठे जानकारी कर सकता है कि उसकी फसल का सही रेट कहां मिल सकता है। इसके अलावा किसान यह भी जान सकता है कि कौन उस फसल को खरीदेगा।

मिलती हैं अन्‍य जानकारियां भीं

इन ऐप से आपको सरकारी की कृषि से जुड़ी सब्सिडी की जानकारी भी मिलती है। इस आधार पर भी आप अपनी पैदावार से ज्‍यादा फायदे में बदल सकते हैं। इसके अलावा मौसम की जानकारी भी आपको कौन सी फसल लगानी चाहिए, यह फैसला करने में मदद कर सकती है। इसके अलावा मिट्टी से जुड़ी जानकारी, फूड प्रोसेसिंग यूनिट, रिटेलर सहित एग्री मार्केटिंग की जानकारी भी मिल सकती है।

कई ऐप हैं बाजार में

IFFCO किसान संचार

IFFCO का ऐप किसान संचार के नाम से है। इससे अभी तक 40 लाख किसान जुड़ चुके हैं। इस एेप में फसलों सहित अन्‍य कृषि से जुड़ी चीजों के रेट, मौसम की भविष्‍यवाणी, मिट्टी के टेस्‍ट सहित जानवरों की देखरेख तक की जानकारी आसानी से ली जा सकती है। यह ऐप एयरटेल के सिम पर उपलब्‍ध है और इसके लिए कंपनी मामूली सा चार्ज लेती है।

RML एजीटेक

इस ऐप से अभी तक 12 लाख किसान जुड़ चुके हैं। इस ऐप में फसलों के दाम के अलावा उसके भाव का ट्रेंड, फसल के ट्रेंड के अलावा फसल की सुरक्षा की जानकारी दी जाती है। हालांकि यह ऐप फ्री है, लेकिन इसके कुछ फीचर के इस्‍तेमाल के लिए पैसे देने पड़ते हैं।

वोडा किसान मित्र

इस ऐप में मंडियों का भाव, सरकारी सब्सिडी सहित अन्‍य जानकारी और मौसम की जानकारी मिलती है। इसके अलावा किसानों से जुड़ी कई अन्‍य जानकारी भी मिलती हैं। यह ऐप वोडा के कनेक्‍शन के साथ मिलता है। इसके लिए 9 रुपए की फीस ली जाती है।

फोन पर भी जानकारी लेने का विकल्‍प

कई ऐप ऐसे भी हैं जो फोन पर भी जानकारी लेने का विकल्‍प देते हैं।

IARI M-Krishi

इस एेप से अभी तक करीब 50 हजार किसान जुड़ चुके हैं। इस ऐप के माध्‍यम किसान SMS से जानकारी ले सकते हैं। अगर किसी किसान को लगता है कि उसे और जानकारी की जरूरत है, तो वह ऐप से जुड़े कॉलसेंटर से फोन करके और जानकारी ले सकता है। इसमें देशभर में लगने वाले किसान मेलों की जानकारी भी दी जाती है। यह ऐप बिल्‍कुल फ्री है।

क्रोपिन (CROPIN)

इस ऐप से करीब 5 लाख किसान फायदा उठा रहे हैं। इस ऐप से कृषि कारोबार से जुड़ी जानकारी दी जाती है। इस ऐप को लाने वाली कंपनी ने करीब 120 बड़ी कंपनियों से समझौता किया है, जो कृषि कारोबार से जुड़ी हैं। यह ऐप फ्री में डाउनलोड किया जा सकता है, इस ऐप के कुछ फीचर का इस्‍तेमाल फीस देने के बाद ही किया जा सकता है।

HANDYGO

इस ऐप से अभी तक करीब 30 लाख किसान जुड़े हैं। इस ऐप में किसानों को IVRS मॉडल से कॉल करके जानकारी की सुविधा मिलती है। इसमें किसान कृषि से जुड़ी जानकारी के अलावा मौसम, बीज और फसल सुरक्षा की जानकारी ले सकते हैं। इस एेप से जुड़े कॉल सेंटर पर फोन करने पर 1 से लेकर 2 रुपए प्रति मिनट का चार्ज देना पड़ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *