अब पावर वीडर करेगा खरपतवार की रोकथाम वो भी बहुत कम खर्चे में

एक किसान के लिए खरपतवार की रोकथाम सबसे बड़ी मुसीबत होते है ।अगर वक़्त पर खरपतवार पर नियंत्रण ना क्या जाए तो यह आपकी पूरी फसल ख़राब कर देते है आपकी फसल के उत्पादन में 20 से 30 प्रतिशत तक की कमी आ जाती है ।

लेकिन खरपतवार की रोकथाम इतना आसान काम नहीं है अगर हाथ से खरपतवार की रोकथाम की जाए तो बहुत समय और मेहनत लगती है लेकिन अगर नदीननाशक दवाइओं का प्रयोग किया जाए तो बहुत महंगा पड़ जाता है ।

ऐसे में किसानो के लिए एक बहुत ही उपयोगी मशीन का अविष्कार क्या है जिस से आप मिन्टों में खेत से खरपतवार का सफाया कर सकते है । इतना ही नहीं इस मशीन के साथ और भी अटैचमेंट्स आती है।

जिस में एक पावर वीडर (खरपतवार निकलने के लिए ) आता है जिसकी कीमत 4250 रु होती है । एक पैडी कटर आता है जिस से आप धान की कटाई कर सकते है ।जिसकी कीमत 2000 रु है साथ में एक ब्रश कटर आता है जिस से आप घास काट सकते है । जिसकी कीमत 2000 रु है ।

सो इस तरह से आप एक मशीन से अलग अलग अटैचमेंट्स लगा कर अलग अलग तीन काम कर सकते है । इस मशीन को आप किराये पर भी दे सकते है । और अच्छा लाभ कमा सकते है ।

मशीन की जानकारी

इसमें 4 स्ट्रोक 52CC इंजन लगा होता है जो पेट्रोल पर चलता है । एक लीटर पेट्रोल से आप इस मशीन को दो घंटे तक चला सकते है । जिस से आप बहुत सा काम ख़तम कर सकते है ।इस मशीन की कीमत सिर्फ 16000 रु है और इसकी अटैचमेंट्स की कीमत अलग है ।अगर आप इस मशीन को खरीदना चाहते है तो 9830182243 नंबर पर संपर्क कर सकते है ।इसके इलवा आप इस लिंक https://dir.indiamart.com/impcat/power-weeder.html पर क्लिक करके और भी डीलर से संपर्क कर सकते है

पावर वीडर कैसे काम करता है वीडियो देखें

15 मिनट में 1 ट्राली भूसा भर देती है ये भूसा भरने वाली मशीन ,यहाँ से खरीदें

तमाम फसलों में कटाई व मड़ाई करने के बाद निकले भूसे को भरने में बहुत समय लगता है और तकलीफ भी बहुत होती है. हाथ से भरने और ज्यादा समय लगने के कारण लागत भी बढ़ जाती है. कई बार तो समय पर भूसा न भर पाने के कारण खेत पर ही काफी भूसा हवाओं द्वारा उड़ा दिया जाता है या फिर बरसात की चपेट में आने के कारण बुरी तरह से भीग जाता है.

मगर अब चिंता करने की बात नहीं है, क्योंकि भूसा भरने वाली खास मशीन बाजार में आ चुकी है. इसे मध्य प्रदेश की एक निजी कंपनी ने ईजाद किया है. यह मशीन स्ट्रा ब्लोअर के नाम से बाजार में आ गई है.

स्ट्रा ब्लोअर से संबंधित जानकारियां इस तरह हैं :

  •  यह मशीन पूरी तरह स्वदेशी तकनीक पर आधारित है. ट्रैक्टर चालित इस मशीन को किसी भी कंपनी के ट्रैक्टर के सहारे आसानी से चलाया जा सकता है. इस का आकार देखने में तोपनुमा होता है.
  • भूसा भरने और निकालने के लिए इस मशीन में 6-6 इंच लंबाई के 2 पाइप लगाए जाते हैं, जिन्हें सुविधा और जरूरत के मुताबिक घटायाबढ़ाया जा सकता है.
  • भूसा भरने वाले पाइप को सक्सन पाइप और भूसा बाहर निकालने वाले पाइप को डिलीवरी पाइप कहा जाता है.

  • इस मशीन से 15 मिनट में 1 ट्राली भूसा भरा जा सकता है.
  • इस के जरीए 20 फुट ऊंचाई तक भूसा भर सकते हैं.
  • अगर भूसा गीला हो तो भी इस मशीन से भूसा भरने में कोई परेशानी नहीं होती है.
  • कंपनी सीधे बिक्री का काम करती है, जिस से देश भर में कहीं इस के डीलर नहीं हैं. इस की बुकिंग कर के इसे हासिल कर सकते हैं.
  • सीधे बिक्री के पीछे कंपनी का मानना है कि इस से किसानों को सस्ती दर पर मशीनें मिल जाती हैं.

ज्यादा जानकारी के लिए कंपनी के प्रबंध संचालक भगवान दास विश्वकर्मा के मोबाइल नंबर 09425483416 पर संपर्क किया जा सकता है.

कंपनी का पूरा पता इस प्रकार है :

भारत कृषि यंत्र उद्योग, उदय नगर कालोनी, सागर रोड, विदिशा (मध्य प्रदेश)

फोन नंबर : 07592-250216, 09826294216

वीडियो देखे

पंजाब के किसान ने त्यार की नदीन निकालने वाली हैरो डिस्क,यहाँ से खरीदें

खेती में नदीन फसल को बहुत नुक्सान पहुंचते है । अगर यह बेकाबू हो जाए तो फसल का उत्पादन आधे से कम रह जाता है ।इस लिए इन्हे शुरुआत में ही काबू करना जरूरी है । लेकिन नदीनों पर काबू करने के लिए नदीननाशक के इलावा यंत्र का भी उपयोग किया जा सकता है ।

नदीननाशक का उपयोग इस लिए कम करना चाहिए क्योंकि इसका असर मुख्या फसल पर भी होता है और धीरे धीरे नदीनों की सहनशीलता बढ़ने लग जाती है और सारी नदीननाशक दवाएं बेअसर हो जाती है । इस लिए सबसे बेहतर यही होता है नदीनों का ख़ात्मा किसी यंत्र की मदद से किया जाए ।

डिस्क हैरो के बारे में हम सब जानते है । इसका इस्तेमाल ट्रेक्टर के साथ खेत में फसल अवशेषों को मिट्टी के अंदर गलाने के लिए किया जाता है । लेकिन अब एक ऐसे हैरो डिस्क आ गए है जिनका इस्तमाल हाथ से किया जाता है और इसके इस्तमाल से हम बड़ी आसानी से नदीनों को साफ़ कर सकते है ।

डिस्क हैरो को पंजाब के गुरमीत सिंह गांव बसिया, तहसील रायकोट , जिला लुधिआना द्वारा त्यार किया गया है । हैरो डिस्क के इलावा गुरमीत सिंह खेतीबाडी मे हाथ से इस्तेमाल होने वाले यंत्र बनाते है । हैरो डिस्क की कीमत 2800 रुपए है, गुरमीत सिंह का फ़ोन नंबर 82888 -72484 है , अगर कोई इसको खरीदना चाहता है तो इस नंबर पर सम्पर्क कर सकता है ।

आ गया मोटरसाइकिल से चलने वाला स्प्रे पंप

जरूरत अविष्कार की जननी है, ये बात सभी मानते हैं। महाराष्ट्र में भी एक किसान की जरूरत ने एक , टिकाऊ और तेजी से काम करने वाली मशीन को जन्म दिया है, जिसका फायदा अब किसानों को खूब हो रहा है।

ये स्प्रे पंप एक ऐसा पंप है जिससे आप बहुत कम ईधन खर्चे से बड़ी आसानी से अपनी फसलों पर छिड़काव कर सकते है । यह पंप एक किसान द्वारा त्यार किया गया है ।

इस पंप से आप सब्जिओं ,फूलों ,अनाज आदि फसलों पर बड़ी आसानी से छिड़काव कर सकते है । इस पंप से स्प्रे करने का सबसे बढ़िया फ़ायदा यह है की इसके साथ छिड़काव करने के लिए आप को टंकी को कंधे पर नहीं उठाना पड़ता ।

कैसे काम करता है पंप

मोटरसाइकिल पर स्प्रे पम्प फिट किया गया है। सबसे पहले मोटरसाइकिल के पीछे वाले चक्के को हटा कर दो चक्के फिट किए गए है और इसके ऊपर अलग इंजन रखा जाता है।इसके ऊपर एक ड्रम्म रख जाता है।

छिड़काव करते समय पाइप पकड़ने की जरूरत नहीं होती। इस पंप से बहुत बढिया छिड़काव हो जाता है साथ ही इसका प्रेशर भी कम जा ज्यादा किया जा सकता है । इस पम्प की कीमत 55000 है ।

अगर आप इस पम्प को तैयार करवाना चाहते है तो नीचे दिए गए नंबर पर सम्पर्क करे।

मछिन्द्र पटेल ,महाराष्ट्र +919921109926

यह पंप कैसे काम करता है उसके लिए वीडियो देखे

सिर्फ 2200 रू की लगत मैं साइकिल को ही बना डाला स्प्रे मशीन, 45 मिनट में ही 1 एकड़ में स्प्रे

जरूरत अविष्कार की जननी है, ये बात सभी मानते हैं। गुजरात में भी एक किसान की जरूरत ने एक नई सस्ती, टिकाऊ और तेजी से काम करने वाली मशीन को जन्म दिया है, जिसका फायदा अब किसानों को खूब हो रहा है।

40 साल के मनसुखभाई जगानी छोटे किसान हैं और गुजरात के अमरेली जिले के रहने वाले हैं। मनसुखभाई प्राथमिक स्तर से आगे नहीं पढ़े हैं। जबरदस्त आर्थिक तंगी के दिनों में मनसुखभाई ने मजदूर के तौर पर भी काम किया है।

22 साल पहले उन्होंने गांव वापस लौटकर मरम्मत और निर्माण का छोटा सा काम शुरु किया और खेती के काम आने वाले औजार बनाने लगे।इस काम में हुनर हासिल करने के बाद अब मनसुखभाई ने फसलों पर स्प्रे करने वाली एक आसान और बेहद सस्ती मशीन बना डाली।इससे ना केवल काम बहुत तेजी से होता है बल्कि लागत भी कई गुना बच जाती है।

मनसुखभाई ने साईकिल में भई स्प्रे मशीन को कुछ इस तरह जोड़ दिया जिससे स्प्रे करने वाले व्यक्ति के शरीर कोई थकावट नहीं होती। साथ ही स्प्रे के दौरान निकलने वाले रासायनिक पदार्थ से शरीर को भी नुकसान का खतरा काफी कम हो जाता है।

मनसुखभाई ने साइकिल के सेंट्रल स्प्रोकेट को पिछले पहिये और पिछले पहिये को सेंट्रल स्प्रोकेट से बदल दिया।उन्होंने पैडल्स को सेंट्रल स्प्रोकेट से हटा दिया। पैडल्स की जगह उन्होंने दोनों तरफ से पिस्टन रॉड लगा दिए। दोनों तरफ से ये पिस्टन रॉड पीतल के कीलेंडर से जुड़े हुए हैं।

30 लीटर का PVC स्टोरेज का एक टैंक उन्होंने साइकिल के कैरियर पर रख दिया, जो कि कीलेंडर पंप से जुड़ा हुआ था। बैलेंस बनाने के लिए उन्होंने साइकिल के कैरियर के दोनों तरफ 4 फुट लंबा छिड़काव करने वाला एक नोज़ल भी लगा दिया।

8 दिनों की मेहनत के बाद मनसुखभाई जबरदस्त ढंग से काम करने वाली स्प्रे मशीन बनाने में सफल हो गए। साईकिल स्प्रे मशीन से 1 एकड़ खेत में छिड़काव करने में 45 मिनट का वक्त लगता है। इसकी लागत 2200 रूपए हैं। इसमें साईकिल की कीमत नहीं जोड़ी गई है।

वीडियो भी देखें

बहुत ही कम ख़र्चे में फसल काटती है यह मिनी कंबाइन ,जाने पूरी जानकारी

भारत में अब भी गेहूं जा दूसरी फसलें काटने का काम हाथ से ही होता है क्योंकि भारत में किसानो के पास जमीन बहुत ही कम है और वो बड़ी कंबाइन से फसल कटवाने का खर्च नहीं उठा सकते इस लिए अब एक ऐसी कंबाइन आ गई है जो बहुत कम खर्च में फसल काटती है ।

साथ ही अब बारिश से ख़राब हुई फसल वाले किसानो को घबरने की जरूरत नहीं क्योंकि अब आ गई है मिनी कंबाइन Multi Crop हार्वेस्टर यह कंबाइन छोटे किसानो के लिए बहुत फयदेमंद है इस मशीन से कटाई करने से बहुत कम खर्च आता है और फसल के नुकसान भी नहीं होता।

बड़ी कंबाइन से फसल का बहुत ही नुकसान होता है । लेकिन इस मशीन के इस्तेमाल करने के बहुत से फायदे है जैसे यह बहुत कम जगह लेता है ।साथ में इस कंबाइन से आप गिरी हुई फसल भी फसल को नुकसान पहुंचाए बिना अच्छे तरीके से काट सकते है ।

अगर जमीन गीली भी है तो भी हल्का होने के कारण यह कंबाइन गीली जमीन पर आसानी से चलती है ज़मीन में धस्ती नहीं । छोटा होने के कारण हर जगह पर पहुँच जाता है । यह मशीन 1 घंटे मे 2 एकड़ फसल की कटाई करती है ,यह मशीन एक दिन मे 14 एकड़ तक फसल की कटाई करती हैऔर इसमें अनाज का नुकसान भी बहुत कम होता है।इस से आप बाकी की अनाज फसलें जैसे गेहूं ,धान,मक्का अदि भी काट सकते है ।

यह कंबाइन कैसे काम करता है उसके लिए वीडियो देखें

अगर आप इस कंबाइन को खरीदना चाहते है तो नीचे दिए हुए पते और नंबर पर संपर्क करें

Address–  Karnal -132001 (Haryana), India
phone -+91 184 2221571 / 72 / 73
+91 11 48042089
Email-exports@fieldking.com

ये है ट्रेक्टर चलित राइस मिल जो 1 घंटे में निकालती है 1200 किलो चावल

किसान धान उगता है और बाजार में बहुत कम भाव में बेच देता है । व्यापारी द्वारा उसका आर्थिक शोषण होता है । जहाँ तक की अगर उसे खुद खाने के लिए चावल की जरूरत होती है तो उसे अपने खाने के लिए चावल बाजार से खरीदना पड़ता है क्योंकि उसके द्वारा पैदा की हुई धान पर छिलका लगा होता जिसको खाने से पहले उतरना पड़ता है । इन दोनों बातों का हल अब निकल आया है ।

अब बाजार में ऐसी ट्रेक्टर से चलने वाली राइस मिल आ गई है जिस से आप चावल का छिलका आसानी से उतार सकते है । जिस से किसान चावल को सीधे बाजार में बेच सकता है । और अपने खाने के लिए भी रख सकता है । सीधे बाजार में बेचने से किसानो को दोगुना लाभ हो सकता है । इस मशीन को चलने के लिए ट्रेक्टर की पावर 34 से 50 H.P. तक होनी चाहिए । यह मिल एक घंटे में 1000-1200 किलो चावल साफ़ कर देती है ।

इस मिल की मुख्य विशेषता यह है, कि इसमें एक ही बार में धान की डिहस्किंग एवं पॉलिशिंग होती है तथा चावल भी कम टूटता है एवं ऊर्जा की खपत भी कम होती है। इस मिल को आसानी से ट्रेक्टर से एक गांव से दूसरे गांव ले जाया जा सकता है। इसके परिणाम अत्यंत उत्साह जनक पाए गए हैं, जिसके कारण कृषकों में इसकी मांग बढ़ रही है।

ये मिल कैसे काम करती है उसके लिए वीडियो देखें

इस मिल की पूरी जानकारी के लिए आप निचे दिए हुए नंबर पर संपर्क कर सकते है ।

पूर्वांचल कृषि यन्त्र उद्योग
Village– Mubarakpur, Tanda, Distt:-Ambedkar Nagar, Uttar Pradesh,
Phone : +917210113837

बहुत तेज़ी से खरपतवार निकालने के लिए करें इस यंत्र का इस्तेमाल, सिर्फ 600 है कीमत

फसलों मे नदीनो को निकालना बहुत महत्वपूर्ण होता है, खरपतवारों के कारण फसलों का 50% नुक़्सान हो जाता है। खेत में नदीनो को हटाने के लिए ट्रैक्टर का प्रयोग किया जाता है।

ट्रैक्टर के द्वारा नदीनो  को निकालना महंगा पड़ता है। हम हर जगह ट्रैक्टर का उपयोग नहीं कर सकते हैं, इस वजह से फसलों को बहुत नुकसान होता है।

किसान भाई ने एक उपकरण विकसित किया है। इस दुवारा आसानी से सब्जियों, गन्ना, कपास, और खेतों की मेड़ो पर नदीनो को निकाला जा सकता है।

नदीनो को फावड़े से निकालने के दौरान कई बार फसल का नुकसान हो जाता है लेकिन इस यंत्र से फसल नुकसान के बिना नदीनो को निकाला जा सकता है। फावड़े के साथ जो काम पूरे दिन मे होता है, इस यंत्र के साथ 2 घंटे में हो जाता है। इस यंत्र की कीमत 600 रुपए है।

वीडियो देखें

खरीदने के लिए संपर्क करें
कृषि कार्य
ढिल्लों रोड साहनेवाल जिला लुधियाना
सम्पर्क – 9855491616, 9988061616

ये हैं भारत की पहली बिना क्लच और गेयर से चलने वाली कंबाइन

भारत में फसल कटाई का काम कंबाइन से किया जाता है । कंबाइन चलाना बहुत ही मुश्किल काम होता है लेकिन अब ये काम बहुत आसान होने वाला है ।भारत में अब ऐसी कंबाइन आ चुकी है जिसे चलाना बहुत ही आसान है।

इस का नाम HARVESTER [ SPLENZO 75 ]  है। यह कंबाइन बिना क्लच के काम करती है इस मे गेयर लिवर नहीं दिया गया। इस मे सभी काम बटन दबाने से होते है। अनाज निकालने के लिए भी ऑटोमैटिक बटन लगा हुआ है।

इस कंबाइन का इंजन 101 hp का है। इस की स्पीड रोड पर 36 hr है। इस कंबाइन को चलाना बहुत ही आसान है। इस को चलाते समय ड्राईवर को थकावट महसूस नहीं होती। इसे कोई भी आदमी भी आसानी से चला सकता है।

यह फसल की कटाई बहुत अच्छी तरह करती है। इस कंबाइन से फसल का नुक्सान नहीं होता। दूसरी कंबाइन के मुकाबले यह कटाई का काम बहुत जल्दी करती है।

अगर आप इस कंबाइन को खरीदना चाहते है तो निचे दिए हुए नंबर पर संपर्क कर सकते है :

  • Address : Near Bus Stand, Sunam State : Punjab Country : India
  • Pin Code : 148028
  • Phone : +91-1676-220280
  • Mobile : +91-9779911580

यह मशीन कैसे काम करती है उसके लिए वीडियो भी देखें :

एक घंटे में गन्ने के 7200 कांडी (आंख) कटती है यह मशीन,जाने पूरी जानकारी

गन्ने की कलम को तैयार करने वाली मशीन (sugarcane bud cutter) बहुत ही उपयोगी है ।किसानों को गन्ना लगाने में काफी लागत आती है।लेकिन अब ऐसी मशीन आ गई है जिस से गन्ना लगाना आसान हो गया है बल्कि गन्ने की पैदावार आम उपज के मुकाबले 20 प्रतिशत तक ज्यादा होती है।

इतना ही नहीं अब तक 1 एकड़ खेत में 35 से 40 क्विंटल गन्ना रोपना पड़ता था और इसके लिए किसान को 10 से 12 हजार रुपये तक खर्च करने पड़ते थे। ऐसे में छोटा किसान गन्ना नहीं लगा पाता था। लेकिन इस मशीन से एकड़ खेत में केवल 3 से 4 क्विंटल गन्ने की कलम लगाकर अच्छी फसल हासिल होने लगी।

इस तरह ना सिर्फ छोटे किसान भी गन्ना लगा सकते है बल्कि उसके कई दूसरे फायदे जैसे किसान का ट्रांसपोर्टेशन का खर्चा काफी कम हो जाता है । इसके अलावा गन्ने का बीज उपचार भी आसान और सस्ता हो गया था।


बड कटर मशीन दो तरह आती है एक तरफ एक हाथ से चलने वाली और एक मोटर से चलने वाली अगर जमीन ज्यादा हो मोटर से चलने वाली मशीन ही ज्यादा कामयाब है । वैसे तो बहुत सारी कंपनी यह मशीन बनती है लेकिन हम आपको एक कंपनी के बारे में बतायंगे जो 4 तरह की बड कटर (Sugarcane bud cutter) मशीन मशीन त्यार करती है । एक हाथ से काटने वाली और दूसरी मशीनों में मोटर लगी होती है । इस कंपनी का नाम है सुमित टेक्नोलॉजी । हाथ से काटने वाली मशीन की कीमत 1500 रुपये है ।

एक तरफ से काटने वाली मशीन :-

  • इसमें एक आदमी काम करता है ।
  • इस मशीन से एक घंटे में 1800 आंख (कांडी) काट सकते है।
  • इसमें 1HP की सिंगल फेस मोटर लगी होती है ।
  • इस मशीन की कीमत Rs 25000/- रुपये है ।

दो तरफ से काटने वाली मशीन :-

  • इसमें 2 आदमी एक वक़्त पर काम कर सकते है।
  • इस मशीन से एक घंटे में 3600 आंख (कांडी) काट सकते है ।
  • इसमें 1HP की सिंगल फेस मोटर लगी होती है ।
  • इस मशीन की कीमत Rs 45000/- रुपये है।

4 तरफ से काटने वाली मशीन :-

  • इसमें 4 आदमी एक वक़्त पर काम कर सकते है ।
  • इस मशीन से एक घंटे में 7200 आंख (कांडी) काट सकते है ।
  • इसमें 1HP की सिंगल फेस मोटर लगी होती है ।
  • इस मशीन की कीमत Rs 65000/- रुपये है ।

यह मशीन कैसे काम करती है उसके लिए वीडियो देखें-

इस मशीन को खरीदने के लिए निचे दिए पते पर सम्पर्क करें

Mob No: 09096771942
Email:sumeet.technologies@gmail.com
SUMEET TECHNOLOGIES
Address- Flat No 3 Piyush Vila s No 73
Behind katraj Dairy Katraj ,Pune 46

नोट – इस कंपनी की जानकारी जानकारी के लिए दी गई है इस लिए कोई भी मशीन खरीदने से पहले अपनी तसली जरूर करें ।