गेहूं लगाने वाले किसानों के लिए सबसे बड़ी ख़ुशख़बरी !,अब होगी बंपर पैदावार, खराब मौसम का असर भी नहीं पड़ेगा

गेहूं किसानों के लिए ये सबसे बड़ी खबर है। दुनियाभर के वैज्ञानिकों ने मिलकर गेहूं के कठिन जीनोम को तैयार कर लिया है। अब किसान गेहूं की बंपर पैदावार तो करेंगे ही साथ ही उनकी फसल कीट-पतंगों से भी सुरक्षित रहेगी।

लगभग 13 साल के अथक प्रयासों के बाद आखिरकार वैज्ञानिकों की एक टीम ने गेहूं का जीनोम बनाने में सफलता अर्जित कर ली है। खास बात यह भी है कि दुनियाभर के इन वैज्ञानिकों में 18 वैज्ञानिक भारत के हैं।

इस शोध के बाद अब उन जीनों की पहचान हो पाएगी जो उत्पादन और अनाज की गुणवत्ता को प्रभावित करते थे। इसके अलावा अब गेहूं की फसलों में लगनी वाली बीमारियों और कीड़ों को नियंत्रित किया जा सकेगा। गेहूं की फसल के लिए तापमान में बदलवा सबसे बड़ी समस्या है, लेकिन अब जीनोम बनने के बाद इस समस्या से भी निजात मिल सकती है।

वैज्ञानिक अब इस जानकारी के आधार पर गेहूं की अलग-अलग क़िस्मों के बारे अधिक जानकारी जुटा सकेंगे और उन्हें बेहतर बना सकेंगे। किसानों और कृषि वैज्ञानिकों को इसके कई फ़ायदे हो सकते हैं, मिसाल के तौर पर वे फसल तैयार होने का समय कम कर सकते हैं, मौसम और जलवायु के अधिक अनुकूल नस्लें तैयार की जा सकती हैं और गेहूं का उत्पादन तो बढ़ाया ही जा सकता है।

2050 तक दुनिया भर की आबादी 9.6 अरब हो जाएगी. इस हिसाब से खाद्य आपूर्ति के लिए हर साल गेहूं के उत्पादन में 1.6 फीसदी की बढ़ोतरी जरूरी है। ऐसे में यह खोज से किसानो और लोगों बहुत फ़ायदा होगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *