2 लाख महीने की नौकरी छोड़ शुरू की खेती, आज है 2 Cr का टर्नओवर

आज के दौर में हर युवा की ख्वाहिश बेहतर डिग्री हासिल कर हैंडसम सैलरी और लग्जरियस लाइफस्टाइल जीने की होती है। खेती-किसानी के बारे में शायद ही वे सोचते हैं। लेकिन एक शख्स ऐसा भी है, जिसने 24 लाख का पैकेज छोड़ खेती करना शुरू किया।

आज उनकी खुद की एग्री कंपनी है, जिसका सालाना टर्नओवर लगभग 2 करोड़ रुपए है। यहां बात हो रही है छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले के रहने वाले सचिन काले के बारे में। तो आइए जानते हैं उन्होंने कैसे हासिल की ये कामयाबी ?

दादा से मिली प्रेरणा

  • एजुकेशन के दौरान दादाजी की कही वो बात सचिन को हमेशा याद रहती है।
  • बिलासपुर जिले के मेधपर गांव में रहने वाले सचिन के दादा बसंत राव काले एक रिटायर्ड सरकारी कर्मचारी हैं।
  • एक बार उन्होंने सचिन से कहा था- पैसे के बिना आप जिंदा तो रह सकते हैं, लेकिन भोजन के बगैर नहीं।
  • उन्होंने कहा था- अगर आप पेट भरने के लिए फसल उगाना जानते हैं, तो हालात कितने भी खराब क्यों न हो आप जिंदा रह सकते हैं।
  • दादा के इन्हीं बातों से मोटिवेट होकर सचिन ने विरासत में मिली 25 एकड़ जमीन को एक एग्रीफर्म में बदल दिया।

2 लाख महीने की नौकरी छोड़ करने लगे खेती

  • 2013 में सचिन ने जॉब छोड़ खेती करना शुरू किया।
  • बता दें कि तब उनकी सालाना पैकेज 24 लाख रुपए थी।
  • सचिन तब पुंजलॉयड नाम की एक कंपनी में काम करते थे।
  • उन्होंने तकरीबन 13 की नौकरी के बाद खेती की ओर रुख किया।

ऐसे हुई 25 एकड़ जमीन पर खेती की शुरुआत

  • सचिन ने 25 एकड़ जमीन पर सीजनल सब्जी और धान उगाना शुरू किया।
  • कुछ दिन खेती पर फोकस रहने के बाद उन्हें मजदूरों की समस्या से दो-चार होना पड़ा।
  • उन्हें लगा कि अगर वे मजदूरों को उतना पैसा दे दें, जिसके लिए वे बाहर जाते हैं तो वो बाहर भी नहीं जाएंगे और उनकी खेती का भी काम हो जाएगा।
  • सचिन काले की ये योजना काम आई और लोग उनसे जुड़ने लगे।

फिर बनाई खुद की कंपनी

  • एक साल बाद सचिन ने 2014 में खुद की कंपनी इनोवेटिव एग्रीलाइफ सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड शुरू कर दी।
  • यह कंपनी किसानों को कॉन्ट्रैक्ट खेती करने में मदद करती है।
  • फिर धीरे-धीरे सचिन काले का कारोबार चल पड़ा।
  • जानकारी के मुताबिक, सचिन काले की कंपनी का सालाना टर्नओवर करीब 2 करोड़ रुपए है।

पत्नी देखती है फाइनेंस का काम

  • तेजी से बढ़ते कारोबार को देखते हुए सचिन ने पत्नी कल्याणी काले को भी इसमें शामिल कर लिया।
  •  मास कॉम से मास्टर्स डिग्री होल्डर कल्याणी कंपनी का फाइनेंशियल वर्क को देखती हैं।
  • सचिन का अब यही सपना है कि उनकी कंपनी बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में लिस्ट हो जाए।
  • बता दें कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा सचिन ‘उत्‍कृष्‍ट कृषक’ अवार्ड से भी सम्‍मानित किए जा चुके हैं।

पिता चाहते थे इंजीनियर बने बेटा

  • सचिन ने बताया कि उनके पिता उन्हें डॉक्टर या इंजीनियर बनाना चाहते थे।
  • उन्होंने पिता का यह सपना भी पूरा किया।
  • 2000 में आरईसी नागपुर में इंजीनियरिंग कॉलेज से मेकैनिकल इंजीरियरिंग में डिग्री हासिल की।
  • इसके बाद उन्होंने MBA फाइनेंस और फिर लॉ की पढ़ाई की।
  • 2007 में डेवलपमेंट इकोनॉमिक्‍स में पीएचडी करने के बाद पुंजलॉयड कंपनी में जॉब किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *