ऐसे शुरू करें पापड़ बनाने का उद्योग

पापड़ आमतोर पर स्नेक्स के रूप में लिया जाने वाला खाद्य पदार्थ हैं. भारत में पापड़ खाना काफी पसंद किया जाता हैं. इसलिए पापड़ की मांग हमेशा रहती हैं. आम तौर पर लगभग सभी मौकों और त्यौहारों में भोजन के बाद पापड़ परोसा जाता है. अत: इनकी खपत हर देश के हर शहर और गांव के हर घर में होती है यानी इस उद्योग में करियर उज्ज्वल है.

पहले महिलाएं घरों में ही एकत्रित होकर अपने परिवार के लिए पापड़ आदि सामान बना लेती थी लेकिन अब एकल परिवार के चलन के चलते महिलाओं के पास इतना समय ही नहीं बचता कि पापड़ घर पर ही तैयार किये जा सके ऐसे में पापड़ बनाने का उद्योग आपको अपना बिज़नस शुरू करने का एक बेहतर मौका दे सकता हैं.

कितना स्कोप हैं पापड़ बनाने के बिज़नस में

भारत के गाँव व शहरों में पापड़ समान रूप से लोकप्रिय हैं. भारत के अतिरिक्त पापड़ को विदेशों में भी निर्यात किया जाता हैं. ब्रिटेन, अमेरिका, संयुक्त अरब अमीरात, सिंगापुर, नाइजीरिया, ओमान, मलेशिया, कुवैत, कनाडा, बहरीन और ऑस्ट्रेलिया ऐसे कुछ देशों के नाम जहाँ हमारे यहाँ बने पापड़ की अधिक मांग होती हैं. इस लिहाज से देखें तो पापड़ उद्योग अवसरों से भरा हुआ हैं.

साथ ही पापड़ बनाने में किसी एक ब्रांड या कंपनी का नाम नहीं चलता. कुछ कंपनियां पुरे देश में फैली हुई हैं लेकिन 60 प्रतिशत बिज़नस लोकल पापड़ निर्माता द्वारा की किया जाता हैं. अपने बिज़नस को मजबूत आधार देने के लिए पापड़ के ब्रांड के विकास पर ध्यान केंद्रित करना महत्वपूर्ण है.

कैसे करें तैयारी व निवेश

पापड़ बनाने का उद्योग लगाने के लिए आपको लोकल लोगों की पसंद की जानकारी होना आवश्यक हैं. साथ ही आपके रीजन में एक अनुभवी डिस्ट्रीब्यूटर का भी आपको साथ चाहिए. पापड़ उद्योग लघु उद्योगों में गिना जाता हैं इसलिए इसमें बहुत अधिक निवेश की आवश्यकता नहीं होती. और आपको बैंक, ग्राम पंचायत आदि संस्थानों से आसनी से लोन मिल भी सकता हैं.

इसके लिए आप प्राइवेट स्तर पर या सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न स्कीमों के तहत नजदीकी बैंक में आवेदन कर सकते हैं. बैंक से भी आपको लोन इसी शर्त पर मिलेगा जब आपके पास उचित बिज़नस प्लान होगा, जिसमें कि आपकी उत्पादक क्षमता आदि की जानकारी दी गयी हो.

कच्चा माल व मशीनरी

पापड़ बनाने के लिए आवश्यक कच्चा मान अच्छी क्वालिटी का होना आवश्यक है क्यूंकि कच्चे माल की क्वालिटी पर आपके पापड़ की क्वालिटी निर्भर करेगी. पापड़ बनाने के लिए दालों, अट्टों, मसाले पाउडर, मिर्च , सोडियम बाई कार्बोनेट और नमक के मिश्रण का उपयोग किया जाता है, ये सभी सामान कहीं से भी आसानी से मिल सकता हैं.

पापड़ बनाने के लिए अगर आप लघु स्टार पर अपना बिज़नस सेट कर रहे हैं तो आपको बहुत बड़ी मशीनरी की आवश्यकता नहीं होगी.

 

 

  • Grinding Machine
  • Mixing Machine
  • Electric Papad press machine (इस मशीन के माध्यम से पापड़ को आसानी से आकार दिया जा सकता है )
  • Sieve Set (चलनी सेट)
  • Drying Machine with trolley या फिर यदि उद्यमी का बजट कम है तो वह पापड़ को धुप में भी सूखा सकता है |
  • पानी भरने और उसको रखने के लिए टैंक |
  • Packaging के लिए Pouch Sealing Machine
  • इसके अलावा BIS मानकों पर खरा उतरने के लिए कुछ Laboratory equipments की भी आवश्यकता हो सकती है |

ये मशीनें दिल्ली, मुंबई आदि शहरों में मिल जाती हैं. पानी भरने के टैंक की आवश्यकता भी होगी व पापड़ पैक करने के लिए पोलीथीन भी चाहिए. BIS मनको पर खरा उतरने के लिए कीच लैब से जुड़े उपकरण भी जरूरी हैं जो उत्पाद की क्वालिटी चेक कर सकें.

कैसे बनाएं पापड़

सबसे पहले, आप नमक, मसालों और सोडियम बाइकार्बोनेट को दालों के आटे में समान रूप से मिलाएं फिर इस मिश्रण में पर्याप्त मात्रा में पानी मिला कर गूँथ लें. पापड़ विभिन्न दालों से बनाये जा सकते हैं, जैसे अगर आपको उड़द की दाल से पापड़ बनाना हैं तो उसे रात भर भिगों कर रखें व सुबह ग्राइंडर में पिस कर दल की पिट्ठी में सभी मसालें मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें.

लगभग 30 मिनट के बाद, छोटी-छोटी आटे की गोली बना लें. फिर इन गोलियों को पापड़ बनाने वाली मशीन में रखना हैं. यहां आप मोल्ड के आकार के अनुसार पपड़े का उत्पादन कर सकते हैं. अब पापड़ को धुप या ड्रायर की सहायता से सुखा लें. सूखने के बाद एक आकर्षक पैकिंग में पापड़ पैक कर लें.

अब आपके पापड़ बिकने के लिए तैयार हैं. लघु स्तर पर आप इस उद्योग से 20 से 25 हजार तक की कमाई कर सकते

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *