3000 रूपये पेंशन पाने के लिए हर किसान आज ही करे यह काम

मोदी सरकार अपनी पहली कैबिनेट बैठक में 60 साल की उम्र पर कर चुके किसानों के लिए 3000 रुपए प्रतिमाह की पेंशन देने की घोषणा कर चुकी है और अब इसको लेकर गंभीर हो गई है।

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसान पेंशन स्कीम को लेकर सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के कृषि मंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा की। इस चर्चा में केंद्रीय मंत्री ने राज्यों के कृषि मंत्रियों को पेंशन स्कीम की रूपरेखा की जानकारी दी।

बयान के अनुसार, इस स्कीम का लाभ लेने वाले किसानों को औसतन 100 रुपए प्रतिमाह का योगदान करना होगा और सरकार की ओर से भी इस स्कीम में इतना ही योगदान किया जाएगा। योजना से जुड़ते समय यदि किसी लाभार्थी की उम्र 29 साल है तो उसे 100 रुपए प्रति माह का योगदान देना होगा।

इसी प्रकार यदि लाभार्थी की उम्र 29 साल से ज्यादा है तो उसे ज्यादा योगदान देना होगा। केंद्रीय कृषि मंत्री ने राज्यों से जल्द इस योजना को अमल में लाने की अपील की है। उन्होंने ये भी कहा कि प्रधानमंत्री किसान पेंशन के लाभार्थी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से मिलने वाले लाभ में से सीधे योगदान का विकल्प भी चुन सकते हैं।

इस स्कीम के लिए किसानों और सरकार की ओर से दिए जाने वाले पेंशन फंड का प्रबंधन एलआईसी की ओर से किया जाएगा और पेंशन का वितरण भी एलआईसी ही करेगी। 60 साल की उम्र पार करने के बाद लाभार्थी किसान को 3000 रुपए मासिक पेंशन दी जाएगी।