पॉपुलर की खेती से मालामाल हो रहे किसान

गंडक पार के प्रखंड पिपरासी में पॉपुलर की खेती पर किसान अपनी किस्मत आजमाने लगे हैं। पॉपुलर से यहां के किसानों की तक़दीर संवर रही है। खेती के साथ पॉपुलर के पौधे लगाए गए हैं ।साथ ही इस साल प्रखंड में 40 हजार पॉपुलर की नर्सरी किसानों ने लगाया है।

वन विभाग के सहयोग से पौधा एवं नर्सरी की खेती किसान कर रहे हैं। किसानों को हरियाली मिशन के तहत निशुल्क पौधे वितरित किया जा रहा है। एक पौधा 15 रूपये किसान को एक साल में प्रोत्साहन राशि मुहैया कराई जा रही है ।3 साल में 35 रुपए प्रति पौधा का प्रोत्साहन राशि वन विभाग द्वारा किसानों को दिया जा रहा है ।इस प्रकार किसान को दोहरा लाभ मिल रहा है ।किसान पॉपुलर के साथ-साथ अन्य अन्य फसल लगा रहे हैं ।

खेतों की मेड़ों पर पौधे लगा रहे हैं ।कुछ किसान संपूर्ण खेतों में पॉपुलर लगा दिए हैं और इनके बीच में हल्दी और मक्का गेहूं मसूर आदि की भी खेती की जा सकती है ।6 से 7 साल में यह पौधा तैयार हो जाएगा और एक पौधा तीन से चार फीट मोटा होगा ।एक पौधे का कीमत तीन से चार हजार होगी ।मोटी रकम किसानों को 7 वर्ष के बाद पॉपुलर से मिलेगी ।पॉपुलर का उपयोग जलावन ,प्लाई क्रिकेट के बल्ला, माचिस की तिल्ली ,फल का बाग फर्नीचर आदि में किया जा रहा है ।

इस योजना को विकसित करने के लिए भारत सरकार प्लाई मशीन लगाने की भी लाइसेंस निर्गत करेगा ।मिश्रित पौधे भी अनुमंडल स्तर पर बरसात के दिनों में किया जाएगा ।मिश्रित पौधे के रूप में महोगनी ,सागवान ,गम्हार, सेमल , अर्जुन ,जामुन आदि का पौधा बरसात कालीन में किसानों में वितरित किया जाएगा। इसके लिए इच्छुक किसान वन विभाग से घोषित तिथि के उपरांत आवेदन लगान रसीद पहचान पत्र बैंक खाता के साथ करेंगे ।

वन विभाग इसके बाद स्वीकृति प्रदान करेगा और किसान को निशुल्क पौधे देगी। किसान राम प्रसाद शर्मा ने बताया कि 1 एकड़ में पॉपुलर का पौध लगाए है। भगड़वा के किसान सुरेंद्र यादव ने बताया कि मैं एक एकड़ में 10000 पौधा नर्सरी लगाया हूं ।परसोनी निवासी हरि नारायण यादव ने कहा कि मैं 1 साल इस साल पॉपुलर का एक एकड़ में 10000 पौधा लगाया हूं ।