3 महीने में 1.5 लाख की कमाई कराएगी इस प्‍लांट की खेती

बिजनेस करने के लिए आप अगर किसी आइडिया की तलाश में है तो मेडिसिनल प्‍लांट फार्मिंग से जुड़ा बिजनेस भी आपके लिए अच्‍छा मौका हो सकता है। इन्‍हीं में से एक है इसबगोल खेती और इससे जुड़ा बिजनेस।

इसमें आप शुरुआत में 10 से 15 हजार रुपए इन्‍वेस्‍टमेंट करने पर आप केवल तीन महीने 1.5 लाख रुपए तक कमा सकते हैं। इसके लिए आपके पास एक हेक्टेयर जमीन होना जरूरी है। यदि आप ज्‍यादा खेती कर सकते हैं या प्रोसेसिंग कर सकते हैं तो इतनी ही खेती पर करीब 2.5 लाख रुपए कमा सकते हैं।

80 फीसदी बाजार पर है भारत का कब्‍जा ईसबगोल एक मेडिसिनल प्‍लांट है। इसके बीज तमाम तरह की आयुर्वेदिक और एलोपैथिक दवाओं में इस्‍तमाल होता है। विश्‍व के कुल उत्‍पादन का लगभग 80 फीसदी सिर्फ भारत में ही पैदा होता है।

इसकी खेती शुरूआत में राजस्‍थान और गुजरात में होती थी। लेकिन, अब उत्‍तर भारत के राज्‍यों हरियाणा, उत्‍तर प्रदेश, पंजाब और उत्‍तराखंड में ही यह बड़ी मात्रा में पैदा किया जाता है। भारत में करीब 3 तरह की ईसबगोल पैदा की जाती है। हरियाणा -2 किस्‍म की फसल 100 से 115 दिनों के भीतर पक कर तैयार हो जाती है। इसके बाद इसे काटकर इसके बीजों को बाजार में बेचा जाता है।

2.5 लाख रुपए तक की हो जाती है उपज

यदि एक हेक्‍टेयर में खेती के आधार पर गणना करें तो एक हेक्‍टेयर से लगभग 15 क्विंटल बीज उत्‍पादित होते हैं। उंझा मंडी में ताजा दामों को लें तो इस वक्‍त लगभग 10700 रुपए प्रति क्विंटल का भाव मिल रहा है। इस लिहाज से केवल बीज ही 160500 रुपए के हो जाते हैं। सर्दियों में प्राइस बढ़ने पर यह आमदनी और अधिक हो सकती है। प्रोसेसिंग के बाद बढ़ जाता है फायदा। ईसबगोल के बीज को प्रोसेस कराने पर और ज्‍यादा फायदा हो सकता है।

दरअलस, प्रोसेस के बाद इसके बीज में लगभग 30 फीसदी भूसी निकलती है और यही भूसी इसका सबसे महंगा हिस्‍सा है। भारतीय बाजार में भूसी का थोक भाव 25 हजार रुपए प्रति क्विंटल है। यानी एक हेक्‍टेयर में उत्‍पादित फसल की भू‍सी का दाम 1.25 लाख रुपए बैठता है। इसके अलावा इसमें अन्‍य खली, गोली आदि बचती है जो करीब डेढ़ लाख रुपए की बिक जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *