पशु किसान क्रेडिट कार्ड की हुई शुरुआत, अब किसान आसानी से खरीद सकेंगे गाय-भैंस

बहुत से किसान पारम्परिक खेती छोड़ पशुपालन शुरू कर रहे हैं। ये किसानों के लिए एक काफी अच्छा व्यवसाय साबित हो रहा है। डेयरी मंत्रालय के पशुपालन एवं डेयरी विभाग की एक रिपोर्ट के अनुसार देश में पशुपालन व्यवसाय में तेजी से वृद्धि हो रही है। इसी रिपोर्ट को देखते हुए केंद्र और राज्य सरकारें पशुपालन को और बढ़ाने के लिए कई बड़े कदम उठा रही हैं।

इसी लिए हरियाणा देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है, जिसने पशु पालन और कृषि व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना की शुरुआत की है और इसे लागू भी कर दिया गया है। आपको बता दें कि हरियाणा के पशु पालन एवं कृषि मंत्री जेपी दलाल ने पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना के शुभारंभ के साथ साथ पशु ज्ञान गंगा, पशु पंजीकरण, बीमा क्लेम समाधान सप्ताह और पंडित दीन दयाल उपाध्याय पशु धन बीमा योजना को भी लांच किया है।

उनका कहना है कि कृषि और पशु पालन व्यवसाय को रोजगार के रूप में अपनाने के लिए युवाओं को बागवानी और पशु पालन में कौशल विकास की ट्रेनिंग दी जाएगी। जिससे युवा अपना व्यवसाय शुरू कर रोजगार पा सकें। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि कृषि और पशु पालन व्यवसाय को विकसित देशों की तरह ही आधुनिक बनाया जाएगा।

समय समय पर केंद्र और राज्य सरकारें किसानों की आमदन को बढ़ाने के लिए प्रयास करती रहती हैं। इसी लिए अब हरियाणा सरकार की पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना से किसानों को बहुत लाभ मिलेगा। हरियाणा कृषि मंत्री ने पशुपालकों से ये अनुरोध किया कि सभी किसान पशु किसान क्रेडिट कार्ड से प्राप्त राशि का उपयोग घर के खर्च या और किसी फालतू खर्च में ना करते हुए व्यवसाय में भी इसका इस्तेमाल करें। साथ ही उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा पशु किसान क्रेडिट कार्ड महिलाओं के नाम पर बनवाए जाएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.