गेहूं से भी महंगी बिक रही है जौ, 10 साल का तोडा रिकार्ड, जानें आज का भाव

इस बार गेहूं और सरसों के बाद अब जौ के भाव भी आसमान छु रहे हैं। दरअसल रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण मांग बढ़ने से गेहूं और सरसों के भावों बढ़े थे। इसी तरह अब जौ के भावों में भी दोगुनी तेजी दिख रही है। इस बार देश की कई मंडियों में जौ की बंपर आवक हो रही है। भाव की बात करें तो जौ के भावों में करीब 1500 रुपए की तेजी आ गई हैं जो पिछले साल की तुलना में दोगुना है।

किसानों से माल्ट कंपनियां 3 हजार रुपए प्रति क्विंटल के भाव पर जौ की खरीद कर रही हैं। जबकि जौ का MSP यानि सरकारी रेट 2022-23 के लिए 1635 रुपए प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है। वहीं बाकि राज्यों की मंडियों में भी जौ की कीमतों में उछाल देखा जा रहा है।

पिछले साल जौ की फसल 1533 रुपए के भाव में बिक रही थी। लेकिन इस बार मार्च की शुरुआत में जौ का भाव 2052 रुपए था। लगातार तेज़ी के बाद जौ की कीमत 3 हजार रुपए प्रति क्विंटल हो गई। आपको बता दें कि रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण भाव बढ़ा है और माल्ट कंपनियों में जौ का स्टॉक करने की होड़ सी लगी हुई है। जिसके चलते किसानों को जौं के अच्छे भाव मिल रहे हैं।

मंडी भाव की बात करें तो राजस्थान की नोहर अनाज मंडी में जौ की फसल 2400 से 2680 रुपए प्रति क्विंटल, सांगरिया मंडी में 2800 से 2870 रुपए, रायसिंह नगर में 2650-3150 रुपए, श्री गंगानगर अनाज मंडी में 2625 से 2948 रुपए, बूंदी मंडी में 2500-2900 रुपए और किशनगढ़ में 2700-3000 रुपए प्रति क्विंटल क भाव से बिक रही है।

हरियाणा में की मंडियों की बात करें तो सिरसा मंडी जौ का का ऑनलाइन प्राइस 2741 रुपए प्रति क्विंटल और ऐलनाबाद मंडी में जौ की फसल 2650 से 2950 रुपए प्रति क्विंटल के आसपास बिक रही है। माहिरों का कहना है कि जब तक रूस-यूक्रेन युद्ध जारी रहेगा तब तक जौ भावों में लगातार तेज़ी देखने को मिल सकती है और किसानों का मुनाफा और भी बढ़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.