किसानों को महंगाई की एक और मार, इतने रूपये बढ़े डीएपी के दाम

देश के किसान पहले से ही महंगाई की मार झेल रहे हैं और इसी बीच किसानों के लिए एक और बुरी खबर आ रही है। आपको बता दें कि भारत की प्रमुख सहाकरी संस्था IFFCO द्वारा डाय अमोनियम फॉस्फेट और एनपीके की कीमतों को बढ़ा दिया गया है। इसके साथ ही सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाली खादों में से एक DAP की कीमतों में भी 150 रुपए का उछाल देखने को मिला है।

पहले से ही किसान लगातार बढ़ रहीं डीजल की कीमतों से परेशान हैं। इसके साथ ही आप उन्हें खाद भी महंगे दामों में खरीदनी पड़ेगी जिससे कृषि लागत कई गुना तक बढ़ जाएगी। आपको बता दें कि इससे पहले भी इफको के साथ साथ कई खाद बनाने वाली कंपनियों ने खादों की कीमतों को बढ़ा दिया था।

Advertisement

लेकिन उस समय सरकार ने किसानों के हित में फैसला लिया था और सब्सिडी की राशि बढ़ा दी थी। जिसके बाद किसानों पर बढ़ी हुई कीमतों का बोझ नहीं पड़ा। जानकारी के अनुसार पिछले कुछ समय से अंतरराष्ट्रीय बाजार में खाद और खाद के लिए इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल की कीमतें काफी ज्यादा तेज़ी से बढ़ रही हैं।

इसका सबसे बड़ा कारण रूस-यूक्रेन के बीच में चल रहा युद्ध है। बता दें कि रूस से बड़ी मात्रा में खाद का कच्चा माल आता है, लेकिन पश्चिमी देशों द्वारा रूस पर लगाए गए प्रतिबंध और सप्लाई चेन प्रभावित होने के कारण कीमत पहले के मुकाबले काफी बढ़ी है।

इफको के अधिकारियों का कहना है कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ी कीमतों के कारण खाद के दामों को बढ़ाया गया है। कंपनी का कहना है कि पहले पैक हो चुके खाद पुरानी कीमत पर ही मिलते रहेंगे। लेकिन नई पैकिंग के लिए किसानों को बढ़ा हुआ दाम देना पड़ेगा।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.