गेहूं की फसल बोने से पहले ही किसानों के लिए खुशखबरी, इन किसानों को होगा ज्यादा फायदा

धान का सीज़न चल रहा है और अभी गेहूं की फसल की बुवाई में लगभग दो महीने का समय बचा है। लेकिन गेहूं की फसल की बिजाई से पहले ही किसानों के लिए बहुत बढ़ी खुशखबरी है। जिन किसानों ने अभी भी गेहूं की फसल को स्टोर करके बेचने के लिए रखा हुआ है उनको बहुत ज्यादा फायदा होने वाला है।

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने गेहूं की पैदावार कम होने के कारण गेहूं का एक्सपोर्ट बंद कर दिया है। अब सिर्फ उन देशों को गेहूं एक्सपोर्ट किया जा रहा है जिन्हे सबसे ज्यादा जरूरत है। पिछले करीब 2 महीने से एक्सपोर्ट बंद है लेकिन इसके बावजूद गेहूं के भाव काफी ज्यादा बढ़ते दिखाई दे रहे हैं। कई जगह पर गेहूं का भाव 2500 रूपये प्रति क्विंटल तक पहुंच गया है।

इसी के साथ अब केंद्र सरकार द्वारा 25 किलो से ज्यादा पैकिंग वाले गेहूं के बोरे पर जीएसटी नहीं लगाई जाएगी। सरकार के इस फैसले से मंडी कारोबारी काफी खुश हैं। जानकारी के अनुसार पिछले 3 दिनों में गेहूं के भाव में बंपर उछाल देखने को मिला है। ज्यादातर मंडियों में गेहूं इस समय 2400 से 2500 रूपये प्रति क्विंटल तक बिक रहा है।

आपको बता दें कि सरकार ने गेहूं पर 5% जीएसटी लगाया था लेकिन कारोबारियों के विरोध के चलते सरकार ने गेहूं से जीएसटी हटा दिया है। GST हटने के बाद व्यापार में तेजी देखी गई है। इस दौरान गेहूं का भाव लगभग 150 रूपये प्रति क्विंटल बढ़ा है।यानि जिन किसानों ने गेहूं को स्टोर किया है उनके लिए ये गेहूं की फसल को बेचने का सबसे बढ़िया समय है।

क्योकि इस समय गेहूं का भाव सभी रिकॉर्ड तोड़ रहा है और किसानों का मुनाफा कई गुना तक बढ़ जाएगा। अनुमान लगाए जा रहे हैं कि आने वाले सीज़न में भी गेहूं का भाव किसानों को बहुत बढ़िया मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.