मानसून ने पकड़ी रफ्तार, जानें आपके राज्य में कब तक पहुंचेगा मानसून

ज्यादातर राज्यों में इस समय आग बरस रही है और लोग तपती गर्मी से राहत पाने के लिए बारिश का इंतज़ार कर रहे हैं। लेकिन अब जल्द ही लोगों को गर्मी से राहत मिलने वाली है। मौसम विभाग का कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से 11 जून यानि कल से बहुत से राज्यों में गर्मी से थोड़ी राहत मिलेगी।

हलाकि पूरी राहत के लिए मानसून की झमाझम का इंतजार करना पड़ेगा। जानकारी के अनवर केरल में 29 मई को ही मानसून ने दस्तक दे दी है। इसी तरह अब मौसम विभाग ने बाकि राज्यों के लिए भी एक अच्छी खबर दी है। मौसम विभाग का कहना है कि 15 जून से देश के मध्य और उत्तर के मैदानी इलाकों में मानसून की रफ्तार में तेजी आ सकती है।

Advertisement

रिपोर्ट के अनुसार मानसून सामान्य रूप से आगे बढ़ रहा है और अगले दो दिनों में ये महाराष्ट्र पहुंच सकता है। इसी तरह महाराष्ट्र पहुंचने के अगले दो दिनों में मानसून मुंबई तक पहुंचने की संभावना है। दक्षिण-पश्चिम मानसून 15 से 20 जून के बीच मध्य प्रदेश में दस्तक दे सकता है। आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में मानसून की सामान्य शुरुआत की तारीख 17 जून के आसपास थी, और राज्य में इस बार सामान्य से ज्यादा बारिश होने की उम्मीद है।

मौसम विभाग कहना है कि इस बार अब तक दक्षिणी, पूर्वी और पुर्वोत्तर राज्यों में सामान्य और सामान्य से अधिक बारिश हुई है। जानकारी के अनुसार दक्षिण-पश्चिम मानसून धीमे धीमे बढ़ रहा है। पिछले 6 दिनों से यह स्थिर था। लेकिन अगले दो दिनों में यह मुंबई पहुंच सकता है। जिसके बाद महाराष्ट्र के कई हिस्सों में बारिश कि संभावना है और इसके साथ ही ये गुजरात के कुछ हिस्सों को भी तर कर देगा।

आपको बता दें कि दिल्ली और इसके आसपास के क्षेत्रों में इस बार भी मानसून 27 जून के आसपास पहुंच सकता है। इसी तरह यूपी में मानसून 15 जून तक दस्तक दे सकता है, लेकिन दक्षिण-पश्चिम मानसून धीमी गति के कारण 2-3 दिन लेट भी हो सकता है। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि जून के आखरी हफ्ते में ही मानसून पश्चिमी यूपी तक पहुंच जाएगा।

हलाकि बिहार के लोगों को अभी मानसून के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ा सकता है। क्योंकि मानसून की स्थिति कुछ सुस्त पड़ी है। इस समय मानसून सिलीगुड़ी में सक्रिय है और 12 जून के बाद ही बिहार में मानसून की एंट्री हो सकती है जिससे लोगों को गर्मी से राहत मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *